Posts

Showing posts from March, 2017

Drama v/s reality

Image
कभी कभी मूझे समझ नहीं आता की जिदंगी में इतना suspense क्यों है ।
तु चाहता किसी को, तूझे चाहता कोई और है ।
_

मैं आज कल बहुत सारे कोरियाई ड्रामा देखने लग गयी हूँ । और ये ड्रामा इतने अच्छे होते है की ये आपको हर किरदार से बांध देते है ।
आज कल जो कोरियाई ड्रामा मेरा सबसे प्रिय है वह है strong woman do bong soon. इस ड्रामा कीं खास बात यह है कि इस ड्रामा में प्रमुख पात्र एक औरत है ।
वह चाहती किसी और को है, और उसे चाहता कोई और है ।

कभी कभी ये ड्रामा मुझे मेरी कहानी सा लगता है पर मैं फिर कहानी के अंत के बारे में सोचने लगती हूँ । यही की मेरी  जिंदगी में भी कई किरदार आने है और इतने जल्दी मैं अंत तक नहीं सोच सकती । हो सकता है कि मेरी जिंदगी कोई नया हीरो आ जाए । या फिर मेरी कहानी के हीरो को पता चल जाए कि मैं हीरोइन हूँ ।😃😂
ये तो जिंदगी है यहाँ कुछ भी हो सकता है । Because it's not scripted by any writer .

posted from Bloggeroid

Guilty in love

Image
What  should I do when I feel guilty in love?
Whether I should cry....
Ans:-"No"
Whether I should should Say -"Sorry"
Ans:-"No"

The Right answer is "if you feel guilty in love " than you are not in love 💔👎
[image_0]
posted from Bloggeroid

चाँदनी रात (Moon Light)

Image
सब सो चुके थे और मैं जाग रही थी ।रात के समय में सब खामोश होता है और किस को पता कि कौन क्या कर रहा है । मुझे नींद नहीं आ रही थी तो मैंने  सोचा की छत पर धुम आऊ । आज चाँदनी रात थी और खामोशी का मजा कुछ और ही था । उस अंधरे में मुझे अलग सी खुशी महसूस हुई और मैं अपने में खुशी से नाच रही थी ।
कोई भी मुझे अंधरे में भुत समझता । पर वहाँ मेरे आलवा कोई  और मौजूद नहीं था ( ऐसा मुझे लगा था) ।
पर जैसे ही मैं पीछे पलटने लगी तो पड़ोस की छत से एक आदमी की परछाई मेरे ओर देख रही थी ।
मैं अंधरे में खड़ी थी इसलिए उसे यह दिखाई नहीं दिया होगा कि मैं कौन हूँ । अंधरे का फायदा उठाकर मैं वहां से भाग कर कमरे में वापस आ गयी ।
कल सुबह किसे याद रहे गा की अंधरे में कौन था।
वह यही कहेगा की उसने छत पर भूत/ चुड़ैल देखा ।


posted from Bloggeroid

Things have changed

Image
March 11, 2017"Things have changed …life review."
Hello reader, it took me long time to write something ethical….
Well! I am very much busy these days because it’s financial year ending. Many of you might be thinking what connection I am having with finance, so let me remind you that I am still working as trainee accountant….. And yes! I am still stuck…..although I don’t hate my job now…because now I have got use to it.
These days i am living alone…. and I don’t have a single human being around me during times when I need them…. I am actually talking about my family and friends.
I don’t know what feelings are as I have turned into a robot who knows only about her works…
But I am enjoying this alone solitude time…..because no one cares whether I am sleeping or awake…..whether dying or living …I can do anything …even dance naked !(just kidding…..but its truth )
I am living on my own…still lazy…..in cooking. The reason I still want my mother to be with me is food becaus…

अकेली जिदंगी

Check out @anelife16's Tweet: https://twitter.com/anelife16/status/839152245858045952?s=09
 कोई ऐसा नहीं जिदंगी में , जो मेरी खमोशी में छुपी बातों को समझ जाए। 
बस एक मुस्कान से बातों छुपा लिया हैं।( not in my best mood to write.🙍🙍🙇